Rahul-Gandhi 2024

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में क्या आम और क्या खास, कांग्रेस के सभी कार्यकर्ताओं और नेताओं को सड़कों पर ला खड़ा कर दिया है. राहुल गांधी की यह यात्रा शुरुआत से ही बीजेपी को परेशानी में डाले हुए हैं. राहुल गांधी जैसे ही यात्रा पर निकले उनका टीशर्ट मुद्दा बन गया. यात्रा से जुड़े कुछ विवादों में से एक टी-शर्ट को लेकर बीजेपी की तरफ से उलझाने की भी कोशिश हुई. ऐसा लगा जैसे बीजेपी की तरफ से कांग्रेस को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 10 लाख के सूट पर हमले का जवाब दिया जा रहा हो.

यात्रा के जरिए राहुल गांधी आम जनता से मिल रहे हैं. कांग्रेस के नेता जो कभी अपने दफ्तरों से नहीं निकलते थे वह भी सड़कों पर राहुल गांधी के साथ कदमताल करते हुए नजर आ रहे हैं. सोए हुए कार्यकर्ता जाग उठे हैं. कांग्रेस पार्टी के आलोचक भी मान रहे हैं कि इस यात्रा ने कांग्रेस के अंदर खोई हुई ऊर्जा का संचार पैदा करने का काम किया है. इसी बीच राजस्थान सरकार ने गैस सिलेंडर के दाम 500 करने का ऐलान कर दिया.

गैस सिलेंडर के दामों में लगातार वृद्धि कुछ सालों में देखने को मिली है, जिससे मध्यमवर्ग खासा परेशान नजर आया. बढ़े हुए दामों से महिलाएं भी सरकार से नाराज नजर आई. लेकिन जिस तरह से राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने गैस सिलेंडर के दामों में भारी कटौती की है उससे निश्चित तौर पर बीजेपी की केंद्र सरकार पर और बीजेपी के राज्यों की सरकार पर दबाव बढ़ा है कि, अगर कांग्रेस राजस्थान में कर सकती है तो दूसरे राज्यों में बीजेपी और खुद केंद्र सरकार बढ़े हुए दामों को कंट्रोल क्यों नहीं कर सकती?

लाल किले से राहुल गांधी ने जनता को संबोधित करते हुए बीजेपी और मीडिया पर जोरदार प्रहार किया. लेकिन अभी तक 2024 को लेकर कोई वादे कांग्रेस की तरफ से और राहुल गांधी की तरफ से नहीं किए गए हैं. इस यात्रा ने बीजेपी के खिलाफ निश्चित तौर पर माहौल बनाने का काम किया है. लेकिन मीडिया ने इस यात्रा को उतनी स्पेस नहीं दी है, जिससे टीवी के माध्यम से घर-घर तक इस यात्रा कि पहुंच बन सके.

इस वक्त देश में महंगाई और बेरोजगारी सबसे बड़ा मुद्दा है. इसके अलावा सरकारी संस्थानों को प्राइवेट हाथों में दिया जा रहा है, इसको लेकर भी अगर कांग्रेस की सरकार बनती है तो वह सरकार क्या करेगी कोई बात राहुल गांधी की तरफ से नहीं किया गया है.

अगर 2024 में सरकार बनने पर जिन संपत्तियों को प्राइवेट हाथों में दिया गया है उनका फिर से राष्ट्रीयकरण किया जाएगा. एयरपोर्ट्स पोर्ट प्राइवेट हाथों से मुक्त किया जायेगा. NHAI के टॉल टैक्स समाप्त किये जायेगें. बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता दिया जायेगा. पेट्रोल, डीजल, गैस के दाम आधा होंगे, ऐसे वादे राहुल गांधी करते हैं तो निश्चित तौर पर 2024 में बीजेपी के लिए सरकार बनाना मुश्किल हो सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here