Ratri Ke Yatri web series

पिछले कुछ वक्त में या यूं कहें कि कोरोना काल के बाद OTT का चलन काफी तेजी से बढ़ा है. लोग थिएटर से ज्यादा ओटीटी पर ही पसंदीदा कंटेंट देखना पसंद करते हैं. वह टाइम अब गया जब लोगों को लंबी चौड़ी भीड़ में खड़े होकर मूवी के लिए टिकट लेना पड़ता था. अब बस साल भर या 1 महीने का सब्सक्रिप्शन लो और घर पर एंजॉय करो और उसमें भी कुछ ऐसे प्लेटफार्म है जहां आप फ्री में मन पसंदीदा कंटेंट देख सकते हैं.

इसके अलावा OTT पर ऐसे कंटेंट की भरमार है जिसे आप परिवार के साथ देख कर खुद को शर्मिंदा महसूस कर सकते हैं. OTT पर 18 साल से ऊपर की उम्र के लोगों के लिए भी कई कंटेंट बनाए गए हैं और यह कंटेंट ऐसे हैं जिसे आप फैमिली के साथ देखने पर शर्म से पानी पानी हो सकते है.

ऐसी ही एक वेब सीरीज (Web series) है रात्रि (Ratri Ke Yatri) के यात्री. इस रोमांटिक कॉमेडी वेब सीरीज का मुख्य संदर्भ कुछ ऐसा है, कभी-कभी हम लोगों से ज्ञान इकट्ठा करते हैं और उसी स्थान पर पहुंचते हैं जहां हम कभी नहीं पहुंचना चाहते. इसका क्या मतलब हो सकता है, कौन कहां नहीं पहुंचना चाहता? यह जानने के लिए आपको सस्पेंस और रोमांस से भरपूर यह वेब सीरीज देखनी चाहिए.

रात्रि के यात्री वेब सीरीज 5 एपिसोड में बनाई गई है. पहले एपिसोड में दिखाया गया है जब रूद्र को पता चलता है कि उसकी मां एक रेड लाइट वर्कर है तो वह अपना आपा खो बैठता है और गुस्से में वह अपनी कुंठा को बाहर निकालने के लिए वहां जाता है. वहां पर उसकी मुलाकात एक रेड लाइट वर्कर से होती है जिसकी एक बेटी भी है. रूद्र उसे बेइज्जत करता है और इसके बदले में उसे वह उसकी मूर्खता का एहसास कराती है.

Ratri Ke Yatri web series thoughtofnation

दूसरे एपिसोड में दिखाया गया है एक 59 वर्षीय बुजुर्ग विधुर है, जिन्होंने अपना पूरा जीवन पारिवारिक कर्तव्यों को पूरा करने में बिताया है. इसलिए वह अपनी जवानी के पलों को दोबारा जीने की कोशिश करते हैं. अब तक अपने अरमान पूरे करने के उनके दो प्रयास विफल रहे हैं और तीसरे प्रयास में उन्हें एक युवा रेड लाइट वर्कर द्वारा अपमानित किया जाता है. लेकिन कुछ समय बाद एक मध्यम आयु की रेड लाइट वर्कर उनकी स्थिति को समझती है और फिर वह दोनों एक शानदार यात्रा पर निकल जाते हैं. आगे क्या होता है यह जानने के लिए आप वेब सीरीज देख सकते हैं.

इस वेब सीरीज के तीसरे एपिसोड में दिखाया गया है कि गांव के सरपंच की बेटी से प्यार करने के जुर्म में 20 साल की सजा काटने के बाद नन्हे पहलवान को जेल से रिहा कर दिया गया. जब नन्हे वर्तमान में सरपंच की बेटी से मिलता है तो उसे सरपंच की बेटी और उसके गांव के लोगों द्वारा नजरअंदाज किया जाता है. अपनी भावनाओं के आहत होने से वह परेशान हो जाता है और नशा करना शुरू कर देता है. लेकिन अंत में एक रेड लाइट वर्कर की बाहों में सांत्वना पाता है.

Ratri Ke Yatri web series thoughtofnation news

रात्रि के यात्री वेब सीरीज के चौथे पाठ में दिखाया गया है कि 1 अट्ठारह वर्षी लड़का है जो सन्यास लेने जा रहा है. लेकिन उसके दोस्त उसे सांसारिक सुखों का आनंद लेने के लिए प्रेरित करते हैं और इसी वजह से वह एक रेड लाइट एरिया में जाता है, जहां वह एक लड़की से मिलता है. इसके आगे की कहानी जानने के लिए आपको यह एपिसोड देखना पड़ेगा.

इस के पांचवे एपिसोड में दिखाया गया है कि गैरी एक धोखेबाज शख्स है. एक दिन नैना जो कि ब्लाइंड है, उससे वह मिलता है. लेकिन क्या गैरी नैना को धोखा दे पाएगा? क्या नैना का फायदा उठा पाएगा या आत्मसमर्पण कर देगा? यह सब कुछ आप पांचवे एपिसोड में देख सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here