Paige Calendine

इस दुनिया में हर किसी का कोई ना कोई सपना जरूर होता है. हर कोई इंसान अपने जीवन में कुछ कर दिखाने की कोशिश करता है परंतु कई बार जीवन के हालात ऐसे हो जाते हैं जिसके आगे ज्यादातर लोग हार मान जाते हैं. जिसकी वजह से ऐसे लोगों का सपना अधूरा ही रह जाता है.

ऐसा कहा जाता है कि मेहनत और हिम्मत करने वालों की कभी हार नहीं होती है. जीवन में कई बार ऐसे दौर आ जाते हैं जब हम अपनी दुविधाओं, मन और समस्याओं के सामने घुटने टेक देते हैं. वहीं कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो अपने जीवन की हर परिस्थितियों का सामना करते हुए लगातार आगे बढ़ते रहते हैं. कहते हैं कि कमजोरी शरीर से नहीं बल्कि दिमाग से होती है.

जी हां, बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो दिव्यांग होने के बावजूद भी इस कमी को अपने ऊपर हावी नहीं होने देते हैं और मजबूत मनोबल से हर परेशानी का सामना करते हुए लगातार आगे बढ़ते रहते हैं. आज हम आपको एक ऐसी एथलीट की कहानी के बारे में बताने वाले हैं जो सबके लिए मिसाल बनी हुई है. हम आपको अमेरिका के ओहिया की रहने वाली Paige Calendine के बारे में बताने जा रहे हैं.

10 वर्षीय यह एथलीट औरों से बिल्कुल अलग है. ऐसा इसलिए क्योंकि वह बिना पैरों के ही जन्मी है, परंतु इन सब के बावजूद भी वह जिमनास्ट करती है. 10 वर्षीय छोटी सी बच्ची Paige Calendine दुनिया भर के लिए मिसाल बनी हुई है. भले ही वह बिना पैरों के पैदा हुई थी परंतु उसके मजबूत हौसले ने उसे जिमनास्टिक में एक कुशल प्रतियोगी में बदल दिया. आप सभी लोग वीडियो में देख सकते हैं कि वह कैसे-कैसे करतब बिना पैर के बिना ही करती हुई नजर आ रही है.

Paige Calendine के माता-पिता का नाम Sean और Heidi है. जब उसकी उम्र 18 महीने की थी, तब ही उनकी मां ने उन्हें जिमनास्ट क्लासेज में भेजना शुरू कर दिया था. उनकी मां का ऐसा मानना है कि वह अपनी बेटी को लाचार नहीं, बल्कि मजबूत बनाना चाहती हैं. Paige Calendine के पेरेंट्स ने उसे कभी भी विकलांग की तरह ट्रीट नहीं किया. सीन का ऐसा कहना है कि, हमने उसे दिव्यांग की तरह से नहीं पाला है. ऐसा इसलिए किया ताकि उसके लिए दुनिया का सामना करना आसान हो.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Heidi Calendine (@heidi.calendine)

उसने ट्रेनिंग के बाद किसी को निराश नहीं किया बल्कि उन्होंने यह साबित कर दिखाया कि उनके अंदर एथलीट छुपा हुआ है, जिसको तैयार करने के लिए ट्रेनिंग लगातार ले रही हैं. Paige Calendine बचपन से लगातार ट्रेनिंग ले रही है. वह गेम में ना सिर्फ खिलाड़ियों को इंस्पायर करती है बल्कि अब तक वह कई मेडल भी अपने नाम कर चुकी है.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Heidi Calendine (@heidi.calendine)

उसका कहना है कि, जिंदगी में कभी भी कुछ भी हो सकता है. मैं लोगों से यह कहती हूं कि तुम बस कर सकते हो. कमजोरियों को ताकत बनाओ और खुद से लड़ते जाओ. बन गए आप एथलीट. आपको बता दें कि वह स्विमिंग और आर्चरी (धनुर्विद्या) में भी रुचि रखती हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here