subhash chandra

बीते दिनों पंजाब के मुक्तसर जिले के मलोट में किसान आंदोलन कर रहे प्रदर्शनकारियों को उपद्रवी बताने वाले भाजपा विधायक अरुण नारंग की जमकर पिटाई की गई है. जिसकी वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल भी हुई है.

बताया जाता है कि भाजपा विधायक अरुण नारंग की पिटाई के बाद ज़ी न्यूज़ के मालिक और राज्यसभा सांसद सुभाष चंद्रा को भी चेतावनी जारी की गई थी. दरअसल हरियाणा के हिसार में 28 मार्च को सुभाष चंद्र एक कार्यक्रम के लिए आने वाले थे. लेकिन अब इसे कैंसिल कर दिया गया.

इस मामले में न्यूज़ रिपोर्टर साहिल मुरली मेघानी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो शेयर की है. जिसे शेयर करते हुए उन्होंने लिखा है कि ज़ी न्यूज़ के मालिक सुभाष चंद्रा का हिसार में एक समारोह था. उससे पहले सैकड़ों की संख्या में किसानों ने समारोह स्थल का घेराव किया और सुभाष चंद्रा का प्रोग्राम कैंसिल करवा दिया.

इसके बाद समारोह आयोजनकर्ताओं ने किसानों से ज़ी न्यूज़ के मालिक सुभाष चंद्रा को बुलाने के लिए माफी भी मांगी. ज़ी न्यूज़ किसानों को लेकर नफरत फैलाने की कोशिश कर रहा था. अब किसानों ने उन्हें अच्छा जवाब दिया है. वीडियो में देखा जा सकता है कि लोग सुभाष चंद्रा के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं.

बता दें कि सुभाष चंद्रा के इस विरोध से पहले रवि आजाद नाम के शख्स ने सोशल मीडिया पर वीडियो जारी कर उन्हें हिसार न आने की चेतावनी भी दी थी, कहा था कि मैं अपने किसान भाइयों से यह कहना चाहता हूं कि सुभाष चंद्रा को हिसार के ग्लोबलस्पेस ना पहुंचने दे. जैसा पंजाब में भाजपा नेता के साथ किया गया है, हिसार में सुभाष चंद्रा के साथ किया जाना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here