Udayanidhi stalin

तमिलनाडु में 6 अप्रैल को विधानसभा चुनाव के लिए एक ही चरण में मतदान होने वाले हैं. जिससे पहले राज्य में डीएमके-कांग्रेस और एआईडीएमके-भाजपा गठबंधन के बीच जमकर आरोप प्रत्यारोप का दौर चल रहा है.

एक तरफ जहां डीएमके अध्यक्ष एम के स्टालिन के दामाद के घर पर आयकर विभाग की छापेमारी हुई है. वही डीएमके अध्यक्ष के बेटे उदयनिधि स्टालिन ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर दिया गया बयान विवादों में आ गया है. चुनाव प्रचार के लिए धारापुरम में डीएमके-कांग्रेस द्वारा एक रोड शो निकाला गया था.

जिसमें डीएमके अध्यक्ष के बेटे ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल यहां पर आए थे. उन्होंने यह आरोप लगाया था कि मैंने एक शॉर्टकट रास्ता अपनाया है. इस दौरान उन्होंने कहा कि यह देखिए कौन कह रहा है. जब मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे तो हम जानते हैं कि उन्होंने कितने लोगों को दरकिनार किया. मेरे पास पूरी लिस्ट है.

इसके साथ ही डीएमके नेता उदयनिधि ने यह भी दावा किया कि देश की पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली मुसीबतों से परेशान होकर दुनिया छोड़कर चले गए. जिसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दोषी हैं. डीएमके नेता द्वारा दिए गए इस बयान पर सुषमा स्वराज और अरुण जेटली की बेटियों ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है.

दिवगंत नेता सुषमा स्वराज की बेटी बांसुरी स्वराज ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मेरी मां को बहुत सम्मान दिया है. वह हमारे बुरे वक्त में हमारे साथ थे. आपके बयान ने हमें आहत किया है. वहीं अरुण जेटली की बेटी सोनाली जेटली ने भी ट्वीट कर लिखा है कि हम जानते हैं कि उदयनिधि पर चुनावी दबाव है. लेकिन अगर आप झूठ बोलेंगे और मेरे पिता की यादों का अपमान करेंगे तो मैं चुप नहीं रहूंगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here