bjp election

अगले साल की शुरुआत में होने वाले विधानसभा चुनावों के मद्देनजर देश की राजनीति में सरगर्मी तेज होने लगी है. हर पार्टी अपनी दावेदारी मजबूत करने के लिए चुनाव के पहले पूरी तैयारी में दिखना चाहती है. इसी क्रम में बीजेपी ने शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान को उत्तर प्रदेश में पार्टी का चुनाव प्रभारी नियुक्त किया है, जबकि संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी उत्तराखंड में बीजेपी की चुनावी तैयारियों की जिम्मेदारी संभालेंगे .

जल शक्ति मंत्री गजेंद्र शेखावत को पंजाब सौंपा गया है,जबकि मणिपुर में बीजेपी की नैया पार लगाने की जिम्मेदारी पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेंद्र यादव को दी गई है. इसके अलावा महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस गोवा में बीजेपी की चुनावी तैयारियों को देखेंगे. गौरतलब है कि अगले साल की शुरुआत में होने वाले 5 विधानसभा चुनावों वाले राज्यों में से बीजेपी पंजाब के अलावा बाकी सभी राज्य (उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर) में सरकार में है.

उत्तर प्रदेश में धर्मेंद्र प्रधान को ‘प्रधान’ जिम्मेदारी

2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा को 2024 के लोकसभा चुनावों का लिटमस टेस्ट माना जा रहा है, यानी 2024 में केंद्र की सत्ता में वापसी के लिए बीजेपी के लिए यूपी विधानसभा जीतना महत्वपूर्ण है. इसकी जिम्मेदरी केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के कंधों पर होगी. यूपी में प्रधान को केंद्रीय मंत्रियों- अनुराग सिंह ठाकुर, अर्जुन राम मेघवाल, शोभा करंदलाजे, अन्नपूर्णा देवी, हरियाणा के पूर्व राज्य मंत्री कैप्टन अभिमन्यु, पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद सरोज पांडे और राज्यसभा सांसद विवेक ठाकुर की सहायता मिलेगी.

उत्तराखंड के विधानसभा चुनाव में बीजेपी के प्रभारी नियुक्त किए गए संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी को लोकसभा सांसद लॉकेट चटर्जी और पार्टी प्रवक्ता आरपी सिंह का साथ मिलेगा. याद रहे कि बीजेपी ने हाल ही में उत्तराखंड में अपना मुख्यमंत्री बदला है – जो इस विधानसभा कार्यकाल में तीसरी बार है. पुष्कर सिंह धामी ने तीरथ सिंह रावत की जगह ली है, तीरथ सिंह ने सिर्फ चार महीने के लिए सीएम के रूप में कार्य किया. राज्य में बीजेपी आंतरिक कलह और सत्ता विरोधी लहर से जूझ रही है.

पंजाब में किसानों की नाराजगी बड़ी चुनौती

आगामी राज्य विधानसभा चुनावों में बीजेपी के लिए सबसे बड़ी चुनौती होगी पंजाब में बीजेपी विरोधी लहर. कृषि कानूनों को लेकर किसान पूरी तरह खिलाफत में हैं. इसके अलावा बीजेपी की सबसे पुराने सहयोगी शिरोमणि अकाली दल ने कृषि कानूनों को लेकर यह कहते हुए एनडीए छोड़ दिया कि वे किसानों के हित में नहीं हैं. पंजाब में चुनावी तैयारियों के प्रबंधन के लिए शेखावत को केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी, मीनाक्षी लेखी और लोकसभा सांसद विनोद चावड़ा से मदद मिलेगी.

मणिपुर में पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेंद्र यादव, को केंद्रीय मंत्री प्रतिमा भौमिक और असम के मंत्री अशोक सिंघल द्वारा सहायता प्रदान की जाएगी . बता दें कि भूपेंद्र यादव ने गुजरात और बिहार जैसे कई प्रमुख राज्यों में बीजेपी के अभियान और चुनाव कार्यों का प्रबंधन किया था. बीजेपी ने देवेंद्र फडणवीस को गोवा में अपना चुनाव प्रभारी नियुक्त किया है. ABP-CVoter द्वारा कराये गए सर्वे में बीजेपी इस 40 विधानसभा सीटों वाले राज्य में जीतती दिख रही है जबकि आम आदमी पार्टी भी अपना प्रभाव छोड़ सकती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here