The Kashmir Files.

विवेक अग्निहोत्री के निर्देशन में बनी फिल्म “द कश्मीर फाइल्स” (The Kashmir Files) को बीजेपी द्वारा प्रमोट किया जा रहा है. फिल्म में कश्मीरी पंडितों के नरसंहार की कहानी दिखाई गई है. हालांकि देखने वालों का कहना है कि यह कई पहलुओं को दरकिनार करती है, सच्चाई से कहीं दूर है.

प्रधानमंत्री मोदी की तरफ से भी फिल्म निर्माताओं से मुलाकात की गई है. बीजेपी शासित राज्यों में इसे टैक्स फ्री कर दिया गया है. लेकिन इस बीच केरल कांग्रेस ने फिल्म की आलोचना की है. रविवार को केरल कांग्रेस की तरफ से इस फिल्म पर अपनी प्रतिक्रिया दी गई.

केरल कांग्रेस ने ट्वीट करते हुए कहा कि वह आतंकवादी थे, जिन्होंने कश्मीरी पंडितों को निशाना बनाया. साल 1990 से लेकर 2007 के बीच के 17 सालों में आतंकवादी हमलों में 399 पंडितों की हत्या की गई. इसी अवधि में आतंकवादियों ने 15 हजार मुसलमानों की हत्या कर दी. कांग्रेस ने आगे लिखा है कि घाटी से कश्मीरी पंडितों का पलायन तत्कालीन राज्यपाल जगमोहन के निर्देश पर हुआ था, जो कि आरएसएस के आदमी थे.

केरल कांग्रेस ने आगे कहा है कि कश्मीरी पंडितों का पलायन बीजेपी के समर्थन वाली वीपी सिंह सरकार के समय शुरू हुआ था, बीजेपी के समर्थन वाली वीपी सिंह सरकार दिसंबर 1990 में सत्ता में आई थी. पंडितों का पलायन उसके ठीक 1 महीने बाद से शुरू हो गया. कांग्रेस ने कहा कि बीजेपी ने इस पर कुछ नहीं किया और 1990 तक वीपी सिंह सरकार को अपना समर्थन देती रही.

कांग्रेस की तरफ से कहा गया है कि यूपीए सरकार ने जम्मू कश्मीर में कश्मीरी पंडितों के लिए 5242 आवास बनवाएं. इसके अलावा पंडितों के प्रत्येक परिवार को ₹500000 की सहायता राशि दी. इसमें पंडितों के परिवार के छात्रों को स्कॉलरशिप और किसानों के लिए कल्याणकारी योजनाएं शामिल थी.

आपको बता दें कि अपने ट्वीट में कांग्रेस ने मुसलमानों का जिक्र कर दिया है और इसको लेकर मीडिया में बवाल मचना तय है. क्योंकि कांग्रेस अगर सच भी बोलती है और वहां मुसलमानों की बात होती है तो मीडिया का एक बड़ा वर्ग कांग्रेस को बदनाम करने के लिए मैदान में उतर जाता है बीजेपी के इशारों पर.

आपको बता दें कि कांग्रेस अगर सही तथ्यों का जिक्र भी करती है और उसमें मुसलमानों का जिक्र होता है तो मीडिया का एक बड़ा वर्ग बीजेपी के साथ मिलकर कांग्रेस को देश की जनता के सामने बदनाम करता है. यह दिखाने की कोशिश की जाती है कि कांग्रेस हिंदुओं का विरोध कर रही है और मुसलमानों का समर्थन कर रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here