image12547

भरतपुर- तेज रफ्तार वाहन सड़कों पर मौत बनकर दौड़ रहे हैं. राजस्थान में लगातार ऐसी गाड़ियों से एक्सीडेंट हो रहे हैं और लोगों की जान जा रही है. नया मामला भरतपुर जिले का है. यहां एक तेज रफ्तार एंबुलेंस ने दो लोगों को टक्कर मार दी, जिसमें एक की मौत हो गई. इससे एक दिन पहले पाली में भी एक तेज रफ्तार SUV की चपेट में आने से किसान की मौत हो गई थी.

दरअसल, मंगलवार सुबह भरतपुर के नदबई क्षेत्र में शराब के नशे में एंबुलेंस चला रहे ड्राइवर ने एक 12वीं के स्टूडेंट व एक अन्य व्यक्ति को टक्कर मार दी. इनमें गंभीर रूप से घायल स्टूडेंट की इलाज के दौरान मौत हो गई. स्टूडेंट को टक्कर मारकर ये एंबुलेंस आगे पुलिया से टकरा गई. एंबुलेंस चालक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है.

पुलिस ने कहा

पुलिस ने बताया कि इस एक्सीडेंट में कुम्हेर थाना क्षेत्र गांव नगला संता निवासी ललित कुमार (26) सुबह मॉर्निंग वॉक के लिए निकले, तभी नदबई से जयपुर जा रही तेज रफ्तार एंबुलेंस ने टक्कर मार दी. इसके बाद एंबुलेंस ड्राइवर ने आगे चल रहे दो दोस्तों रौनीजा निवासी रामेश्वर सिंह (17) और विशाल (17) भी टक्कर मारी, जिसमें रामेश्वर एंबुलेंस के साथ करीब 40 फीट तक घिसटता चला गया. इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. इसके बाद मारुति वैन एंबुलेंस असंतुलित होकर खांगरी पुलिया से टकरा कर पलट गई. घायलों को नदबई CHC में उपचार के लिए भर्ती कराया. जहां से उन्हें भरतपुर रेफर कर दिया गया, यहां रामेश्वर की मौत हो गई. वहीं घायल ललित कुमार को इलाज के लिए जयपुर भेजा गया है.

हादसे के वक्त मौजूद लोगों ने बताया कि ड्राइवर शराब के नशे में गाड़ी चला रहा था. पुलिस ने एंबुलेंस को जब्त कर नादौती (करौली) के रहने वाले ड्राइवर राजेश मीणा को हिरासत में ले लिया. मीणा जयपुर से लाए मरीज को नदबई छोड़कर वापस जा रहा था. रामेश्वर के पिता महेंद्र सिंह जाट ITBP में हवलदार हैं. उन्होंने बताया कि रामेश्वर अपने दोस्त के साथ सुबह घूमने के लिए हलैना रोड पर गया था, ​​​​​तभी ये हादसा हो गया.​ रामेश्वर ने हाल ही में 12वीं की परीक्षा पास की थी. उसकी दो बहनें भी हैं. रामेश्वर घर में सबसे छोटा था.

(रिपोर्ट- आकाश गुप्ता, भरतपुर)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here