Donald Trump News

रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध का घमासान जारी है. रूस लगातार यूक्रेन के शहरों पर हमले कर रहा है. रूस के हमले को लेकर दुनिया के तमाम देश प्रतिक्रिया दे रहे हैं और रूस से युद्धविराम की घोषणा करने की अपील कर रहे हैं. रूस पर पश्चिमी देश लगातार प्रतिबंध भी लगा रहे हैं. कई कंपनियों ने रूस में अपना कारोबार बंद कर दिया है.

इधर रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध को लेकर अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने अजीबोगरीब बयान दिया है इस युद्ध को खत्म करने का एक अलग स्तर का तरीका बताया है. एक संबोधन में उन्होंने बताया है कि अमेरिका को इस युद्ध को खत्म करने के लिए क्या करना चाहिए.

डोनाल्ड ट्रंप यूक्रेन के खिलाफ रूस की सैन्य कार्यवाही में सीधे तौर पर दखल न देने के लिए राष्ट्रपति जो बिडेन (Joe Biden) की आलोचना करते रहे हैं. ट्रंप ने अपने संबोधन में कहा अमेरिका को अपने F-22 लड़ाकू विमानों पर चीन का झंडा लगाना चाहिए और रूस पर बम बरसा देना चाहिए. इसके बाद हम कह दें कि यह चीन ने किया है. तब चीन और रूस आपस में लड़ेंगे और हम आराम से पीछे बैठ कर तमाशा देखेंगे.

यह जानकारी अमेरिकी मीडिया की रिपोर्ट में सामने आई है. ट्रंप के इस इस बयान पर वहां मौजूद लोगों ने इसे मजाक की तरह लेते हुए ठाकर लगाएं और तालियां बजाई.

नाटो को बताया कागजी शेर

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने नाटो को कागज का शेर बताया है. उन्होंने कहा है कि आखिर किस बिंदु पर देश कहेंगे कि हम मानवता के खिलाफ इतना भीषण अपराध होने नहीं दे सकते? हम ऐसा नहीं होने दे सकते. हम इसे जारी रहने नहीं दे सकते. जो बिडेन को यह कहना बंद कर देना चाहिए कि हम रूस पर हमला इसलिए नहीं करेंगे. क्योंकि वह एक परमाणु शक्ति से संपन्न देश है.

आपको बता दें कि जब रूस ने यूक्रेन पर हमला किया था तब पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रूस के राष्ट्रपति पुतिन की तारीफ की थी. इसके लिए उनकी ही पार्टी के नेताओं ने उनकी निंदा की थी. अब उन्होंने अपना रुख बदल लिया है और राष्ट्रपति जो बिडेन को निशाने पर ले रहे हैं. ट्रंप ने यह दावा भी किया था कि इस समय अगर मैं अमेरिका का राष्ट्रपति होता तो पुतिन ने जो भी किया है वैसा वह कभी नहीं कर सकते थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here