Imran Khan Modi government

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने अमेरिका के दबाव में ना आकर रूस से रियायती तेल खरीदने के लिए मोदी सरकार (Modi government) की जमकर तारीफ की है. इमरान खान ने भारत की स्वतंत्र विदेश नीति की तारीफ की और पाकिस्तान मुस्लिम लीग की सरकार पर बिना सिर वाले मुर्गे की तरह अर्थव्यवस्था के लिए फटकार लगाई.

इमरान खान का यह बयान उस वक्त आया है जब भारत में मोदी सरकार ने पेट्रोल के दामों में 9.5 रुपए प्रति लीटर और डीजल के दामों में ₹7 प्रति लीटर की कटौती की है. इमरान खान यहीं नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि वार्ड क्वॉड का हिस्सा होने के बाद भी भारत ने देश की जनता को राहत देने के लिए रूस से कम दामों पर तेल खरीदा. भारत की इस बात की तारीफ करनी होगी कि उसने अमेरिका दबाव को इन सभी चीजों से दूर रखा.

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने मोदी सरकार द्वारा ईंधन के दामों में कटौती के बारे में जानकारी साझा करते हुए ट्विटर पर लिखा है कि, क्वॉड का हिस्सा होने के बाद भी भारत ने अमेरिकी दबाव को खुद से अलग रखा है और जनता को राहत देने के लिए रूस से रियायती दामों पर तेल खरीदा. भारत ने भी वही किया जो हमारी सरकार एक स्वतंत्र विदेश नीति की मदद से इसे हासिल करने के लिए काम कर रही थी.

इमरान खान ने इसके अलावा अपनी सत्ता चले जाने पर भी बयान दिया. उन्होंने कहा कि कई मीर जाफर और कई मीर सादिक है जो सत्ता परिवर्तन के लिए बाहरी दबाव के आगे झुके हुए हैं. जिसकी वजह से देश में सत्ता परिवर्तन हुआ और अब बिना सिर वाले मुर्गे की तरह अर्थव्यवस्था लेकर घूम रहे हैं.

आपको बता दें कि इससे पहले भी पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान जब सत्ता में थे तो वह भारत की विदेश नीति के मुरीद थे. आखिर में उनकी सरकार चली गई थी. पाकिस्तान में तमाम कारण गिना कर इमरान खान सरकार को हटाया गया था. लेकिन शहबाज शरीफ की सरकार उससे ज्यादा बदतर हालत का सामना कर रही है. खुद प्रधानमंत्री शाहबाज शरीफ और उनके निकटवर्ती लोग मनी लॉन्ड्रिंग मुकदमे का सामना अदालत में कर रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here