Gurmeet Ram Rahim news

एक ही इंसान क्या दो जगह उपस्थित हो सकता है? कुछ ऐसा ही दावा एक शख्स ने डेरा सच्चा सौदा के चीफ गुरमीत राम रहीम (Gurmeet Ram Rahim) को लेकर पंजाब हरियाणा हाई कोर्ट में किया है. इस दिलचस्प मामले को लेकर सोमवार को अदालत में सुनवाई हुई है. गुरमीत राम रहीम को लेकर याचिका लगाई गई थी कि जो गुरमीत राम आजकल वीडियो जारी कर रहा है वह नकली है और असली गुरमीत राम रहीम को अगवा कर लिया गया है.

इस मामले की सुनवाई करते हुए जज ने कहा कि शायद वकील ने साइंटिफिक फिक्सन वाली फिल्म देखी है, ऐसे में केस वापस लो या खारिज होगा. अदालत ने कहा कि राम रहीम 21 दिनों की पैरोल पर 17 जून को जेल से बाहर आया तो फिर कैसे अगवा हो गया? अदालत ऐसे केस सुनने के लिए नहीं बनी है. वहीं हरियाणा सरकार ने कहा है कि राम रहीम को पुख्ता सुरक्षा दी गई है, ऐसा नहीं हो सकता कि उसे अगवा कर लिया जाए.

आपको बता दें कि अनुयायियों से रेप मामले में राम रहीम उम्र कैद की सजा काट रहा है. जज ने वकील को कहा कि इस मामले की याचिका को डालते हुए कम से कम अपना दिमाग इस्तेमाल करते. क्या ह्यूमन क्लोनिंग संभव है? सब कुछ अखबार और टीवी में यह सब चल रहा है. फिल्मी बातें मत करो. इसके बाद हाईकोर्ट ने राम रहीम के नकली होने की याचिका खारिज कर दी.

इस पूरे मामले पर मीडिया से बात करते हुए गुरमीत राम रहीम की प्रवक्ता और अधिवक्ता ने कहा है कि इस तरीके की याचिका लगाकर डेरा सच्चा सौदा को बदनाम करने की कोशिश हो रही है. यह जो लोग हैं यह ऐसी याचिका लगाकर डेरा सच्चा सौदा के अन्य मामलों को पर भी प्रभावित करने का प्रयास कर रहे हैं. याचिकाकर्ता अगर इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में जाएंगे तो भी हम इस मामले को देख लेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here