Imran Khan pak

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने स्थिति से पहले तीन शर्ते रखी हैं, यह जानकारी पाकिस्तानी न्यूज़ चैनल के हवाले से आई है.

इमरान खान के कई बड़े मंत्री मैदान छोड़कर भाग चुके हैं. अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर पूर्व मंत्री तक लिख चुके हैं. लेकिन इमरान खान आखरी बॉल तक डटे हुए हैं. इमरान खान की सरकार में सूचना मंत्री फवाद चौधरी और विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट में बदलाव कर दिया है.

इमरान खान ने अपने इस्तीफे से पहले तीन शर्ते रख दी हैं. इमरान खान ने कहा है कि इस्तीफे के बाद गिरफ्तारी ना हो, कोई मुकदमा दर्ज ना हो और शाहबाज की जगह कोई और प्रधानमंत्री बने.

आपको बता दें कि नेशनल असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग कराने से स्पीकर ने इंकार कर दिया है. उन्होंने कहा है कि मैं अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग कराकर इमरान खान के साथ धोखा नहीं कर सकता. उन्होंने कहा है कि इसके लिए मैं कोई भी सजा भुगतने के लिए तैयार हूं.

आपको बता दें कि मरियम नवाज (Maryam Nawaz) लगातार इमरान खान पर हमलावर हैं. इमरान खान ने भारत की तारीफ की थी. मरियम नवाज ने इमरान खान को भारत शिफ्ट हो जाने तक की नसीहत दे डाली. उन्होंने इमरान खान को अटल बिहारी वाजपेई की याद दिला कर सीख लेने की सलाह दी.

इससे पहले मरियम नवाज ने पाकिस्तान की जनता को कहा था कि सीट बेल्ट बांध लीजिए. किसी भी वक्त जहाज पुराने पाकिस्तान में लैंड कर सकता है.

मरियम नवाज ने यहां तक कह दिया कि सत्ता जाते देख पागल हो रहे इस व्यक्ति को बताना चाहिए कि उन्हें किसी और ने नहीं बल्कि उन्हीं की पार्टी ने ही बाहर का रास्ता दिखाया है. वहीं पाकिस्तान में जब से विपक्ष ने इमरान खान के खिलाफ मोर्चा खोला है तब से इमरान खान कई बार भारत की विदेश नीति की तारीफ कर चुके हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here