Mohammed bin Salman Saad Al Jabri

सऊदी अरब के एक पूर्व खुफिया प्रमुख ने क्रॉउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान (Mohammed bin Salman) को “मनोरोगी” बताया है. पूर्व खुफिया प्रमुख का बयान ऐसे समय में आया है जब अमेरिकी राष्ट्रपति क्रॉउन प्रिंस से मिलने वाले हैं. पूर्व खुफिया प्रमुख साद अल जबरी ने चेतावनी दी है कि क्रॉउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान की अपार संपत्ति अमेरिका और दुनिया भर के अन्य देशों के लिए खतरा है.

पूर्व खुफिया प्रमुख साद अल जबरी (Saad Al Jabri) ने कहा है कि क्रॉउन प्रिंस बेशुमार संसाधनों के साथ एक हत्यारा है. उन्होंने आगे कहा है कि क्रॉउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान भाड़े के सैनिकों का एक शातिर गिरोह चलाता है, जिसे टाइगर स्क्वाड कहा जाता है. जिसका उपयोग वह अपहरण और हत्याओं को अंजाम देने के लिए करता है. अल जबरी ने एक इंटरव्यू में सीबीएस चैनल को बताया है कि मैं यहां बेशुमार संसाधनों वाले मध्य पूर्व में एक मनोरोगी, हत्यारे के बारे में आप लोगों को जगाने आया हूं. वह शख्स अपने ही लोगों अमेरिकियों और इस ग्रह के लिए खतरा है.

उन्होंने कहा कि बिना सहानुभूति वाला मनोरोगी भावनाओं को महसूस नहीं करता. वह अपने अनुभव से कभी नहीं सीखा और हमने इस हत्यारे द्वारा किए गए अत्याचारों और अपराधों को देखा है. आपको बता दें कि अल जबरी मोहम्मद बिन सलमान के लंबे समय तक सलाहकार थे, जिन्हें जून 2017 में सऊदी क्रॉउन प्रिंस के द्वारा हटा दिया गया.

कुछ मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक 2020 में अल जबरी ने वाशिंगटन डीसी कोर्ट में सऊदी क्रॉउन प्रिंस पर मुकदमा दायर किया. आरोप लगाया कि सऊदी क्रॉउन प्रिंस ने 2018 में टोरंटो में उन्हें मारने के लिए स्क्वाड भेजा. उनका यह आरोप इस्तांबुल में सऊदी पत्रकार जमाल खागोशी की हत्या के 2 सप्ताह बाद सामने आया.सीबीएस से बात करते हुए उन्होंने कहा कि उन्हें एक दिन मोहम्मद बिन सलमान द्वारा मारे जाने की आशंका है. क्योंकि उनके पास सरकार और शाही परिवार के बारे में संवेदनशील जानकारी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here