Prashant Kishor Congress

कांग्रेस (Congress) की तरफ से चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) से कहा गया है कि वह पार्टी में शामिल हो और सलाहकार के रूप में काम ना करें. शनिवार को प्रशांत किशोर ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi), राहुल गांधी (Rahul Gandhi), प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) तथा पार्टी के तमाम वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक की.

बैठक में प्रशांत किशोर को लेकर कांग्रेस पार्टी ने अपना रुख एकदम स्पष्ट कर दिया है. पार्टी इस बार प्रशांत किशोर को बतौर चुनावी रणनीतिकार पार्टी में शामिल नहीं करना चाहती है. कांग्रेस चाहती है कि इस बार प्रशांत किशोर पार्टी की सदस्यता लें और फिर एक कार्यकर्ता की तरह काम करें.

सूत्रों के हवाले से जो जानकारी आ रही है उसके मुताबिक प्रशांत किशोर ने कांग्रेस में शामिल होने की इच्छा जताई है और पार्टी की कमजोरियों पर और सुधार के लिए क्या कुछ किया जाना चाहिए, इसको लेकर प्रेजेंटेशन भी कांग्रेस के नेतृत्व को दिया है. जैसे कि कांग्रेस को लोकसभा की 543 में से 370 सीटों पर फोकस करना चाहिए.

प्रशांत किशोर की माने तो यह वह सीटें हैं, जहां पर कांग्रेस पार्टी अधिक मजबूत है. बाकी सीटों पर गठबंधन के साथियों को उम्मीदवार उतारने का मौका दिया जाना चाहिए. इन सबके अलावा प्रशांत किशोर ने यह भी सलाह दी है कि पार्टी को इस बार ज्यादा फोकस उन राज्यों पर करना चाहिए जहां पर पहले से उसकी स्थिति मजबूत है.

जानकारी के मुताबिक मीटिंग में प्रशांत किशोर ने 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस के नेताओं के सामने विस्तृत प्रेजेंटेशन दिया है. इसके साथ ही 2024 की तैयारियों को लेकर रोडमैप भी बताया है. इस दौरान ग्रुप डिस्कशन के साथ ही व्यक्तिगत चर्चा भी हुई है.

पिछले साल भी राजनीतिक गलियारों में चर्चा थी कि प्रशांत किशोर कांग्रेस में शामिल हो जाएंगे. उस वक्त उनकी मुलाकात गांधी परिवार के सदस्यों से हुई थी. यह भी चर्चा रही है कि प्रशांत किशोर कांग्रेस संगठन में कोई बड़ा पद चाहते हैं, लेकिन कांग्रेस के कई नेता इसके लिए तैयार नहीं है.

ऐसे में कांग्रेस नेतृत्व के द्वारा कांग्रेस में शामिल होने के ऑफर को क्या प्रशांत किशोर स्वीकार करेंगे, इस पर तमाम राजनीतिक विश्लेषकों की नजरें लगी हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here