Kangana Ranaut thoughtofnation

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) की धाकड़ बॉक्स ऑफिस पर बुरी तरीके से फ्लॉप साबित हुई है. फिल्म अपनी लागत का 10% भी नहीं निकाल पाई है. धाकड़ के फ्लॉप होने के बाद सोशल मीडिया पर कंगना बुरी तरीके से ट्रोल हो रही हैं. हालांकि अब कंगना ने सोशल मीडिया पर खुद का बचाव करते हुए एक पोस्ट शेयर किया है.

कंगना रनौत ने लिखा है कि 2022 अभी खत्म नहीं हुआ है. अपनी पोस्ट में खुद को बॉक्स ऑफिस की क्वीन बताते हुए उन्होंने लिखा है कि 2019 में मैंने 160 करोड रुपए की सुपरहिट मणिकार्णिका दी. 2020 महामारी का साल था. 2021 में मैंने करियर की सबसे बड़ी हिट फिल्म थालाईवी दी, जो OTT पर आई और सक्सेसफुल रही. कंगना ने लिखा है कि मैंने खूब नेगेटिविटी झेली है. लेकिन 2022 में लॉकअप की होस्टिंग ब्लॉकबस्टर थी और यह साल अभी खत्म नहीं हुआ है. अभी बहुत सी उम्मीदें हैं.

आपको बता दें कि ऐसी खबरें हैं कि बॉक्स ऑफिस पर धाकड़ बुरी तरीके से फ्लॉप साबित हुई है और ऐसे में प्रोड्यूसर को फिल्म के सैटेलाइट और डिजिटल राइट्स बेचकर अच्छी कमाई हो इसकी कोई उम्मीद नहीं है. इतना ही नहीं फिल्म के मेकर्स को अब तक OTT और सैटेलाइट राइट्स के लिए कोई डील नहीं मिल रही है.

नूपुर के समर्थन में कंगना

कंगना इन दिनों अपनी फिल्मों से ज्यादा अपनी बयानबाजी को लेकर चर्चाओं में रहती हैं. उनकी इस बयानबाजी में पॉलिटिकल कमेंट ज्यादा रहते हैं. फिलहाल कंगना बीजेपी की पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा के सपोर्ट में उतर आई हैं. उन्होंने नूपुर के सपोर्ट में लिखा है कि यह अफगानिस्तान नहीं है. दरअसल नूपुर ने पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी की थी. कंगना ने अपनी पोस्ट में लिखा है कि नूपुर को अपने मन की बात कहने की पूरी आजादी है.

कंगना रनौत ने लिखा है कि नूपुर को दी गई हर तरह की धमकियां मैंने देखी हैं. हिंदू भगवानों को हर दिन अपमानित किया जाता है तो हम कोर्ट जाते हैं. यह अफगानिस्तान नहीं है. हमारे पास एक व्यवस्था में चलने वाली सरकार है, जिससे लोगों ने ही चुना है. इस पूरे प्रोसेस को लोकतंत्र कहते हैं. यह बात सिर्फ उन लोगों के लिए है जो हमेशा इस बात को भूल जाते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here