Raghav Chadha

रविवार को आम आदमी पार्टी के नेता राघव चड्ढा (Raghav Chadha) को कानूनी नोटिस मिला है. यह नोटिस बीजेपी युवा मोर्चा पंजाब के उपाध्यक्ष अशोक सरीन (Ashok Sarin) की तरफ से दिया गया है. इसमें आम आदमी पार्टी के नेता को बीजेपी से माफी मांगने के लिए कहा गया है.

बीजेपी पर की गई टिप्पणी पर राघव चड्ढा से लिखित में माफी की मांग की गई है. वहीं माफी मांगने में विफल रहने पर उनके खिलाफ शिकायत दर्ज की जाएगी. कानूनी नोटिस में लिखा गया है कि राघव चड्ढा ने बीजेपी को गुंडों लफंगो और भारत की जाहिल पार्टी कहां है. इसके लिए उन्हें माफी मांगनी चाहिए.

मामला क्या है?

आम आदमी पार्टी की तरफ से राज्यसभा सांसद और दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा ने 16 अप्रैल को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बीजेपी पर टिप्पणी की थी, जिसके बाद विवाद खड़ा हो गया था. प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए राघव चड्ढा ने बीजेपी को भारत कि जाहिल पार्टी और गुंडों लफंगो की पार्टी तक कह डाला था.

राघव चड्ढा की इस टिप्पणी पर उन्हें अब नोटिस भेजा गया है. यह नोटिस भारतीय दंड संहिता की धारा 499 और 500 के तहत भेजा गया है. कानूनी नोटिस में 3 दिनों के भीतर लिखित माफी मांगने की मांग की गई है. जिसमें विफल रहने पर उनके खिलाफ आपराधिक शिकायत दर्ज कराई जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here