Rahul Gandhi

कांग्रेस लगातार प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) और उनकी सरकार की नीतियों को लेकर हमलावर है. बिजली संकट पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शनिवार को प्रधानमंत्री मोदी पर करारा हमला बोला है. राहुल गांधी ने मोदी के 2017 में दिए गए भाषण का सहारा लिया, जिसमें वह कहते सुनाई दे रहे हैं कि बिजली तो सरप्लस है.

प्रधानमंत्री मोदी उस वीडियो में यह कह रहे हैं कि अब हम दूसरे देशों को बिजली बेच सकते हैं. इसके अलावा मोदी ने बिजली संकट पर और भी बातें कही थी.

पूरे देश में बिजली संकट चल रहा है. केंद्र सरकार ने समय पर इससे निपटने की तैयारी नहीं की. तमाम थर्मल पावर हाउस कोयले के अभाव में बंद पड़े हैं. हालांकि इसके बावजूद मोदी सरकार के मंत्री यह मानने के लिए तैयार नहीं है कि कहीं कोई बिजली संकट है. आपको बता दें कि 8-8 घंटे की बिजली कटौती हो रही है.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मौजूदा बिजली संकट को लेकर प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा और पूछा कि वह इस मोर्चे पर अपनी नाकामी के लिए किसे जिम्मेदार ठहराएंगे? उन्होंने पूछा कि क्या प्रधानमंत्री मोदी इस बिजली संकट के लिए पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू, राज्य सरकारों या देश की जनता को जिम्मेदार ठहराएंगे?

राहुल गांधी ने लिखा कि प्रधानमंत्री जी के वादों और इरादों के बीच का तार तो हमेशा से ही कटा था. मोदी जी इस बिजली संकट में आप अपनी नाकामी के लिए किसे दोष देंगे? आपको बता दें कि देश के कई राज्यों में बिजली कटौती से जनता बेहाल है, जिसको लेकर कांग्रेस बीजेपी पर निशाना साध रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here