Sanjay Raut uddhav

शिवसेना सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) को आज कोर्ट में पेश किया जाएगा. उनका मेडिकल टेस्ट भी कराया जाएगा. प्रवर्तन निदेशालय ने संजय राउत को गिरफ्तार किया था. उधर संजय राउत की गिरफ्तारी, महंगाई और जीएसटी जैसे मुद्दों को लेकर राज्यसभा में जमकर हंगामा हुआ. लोकसभा में भी इन मुद्दों पर हंगामा हुआ. इसके बाद सदन की कार्यवाही को कुछ देर के लिए स्थगित करना पड़ा.

कांग्रेस नेता मलिकार्जुन खरगे ने कहा है कि बीजेपी विपक्ष मुक्त संसद चाहती है, इसलिए संजय राउत (Sanjay Raut) पर कार्यवाही की गई. हम महंगाई, गुजरात में शराब से मौतों का मामला संसद में उठाएंगे. इतना ही नहीं झारखंड में ऑपरेशन कीचड़ का मुद्दा भी संसद में उठाएंगे. अधीर रंजन चौधरी ने कहा है कि संजय राउत ने एक ही अपराध किया है कि वह बीजेपी की डराने धमकाने की राजनीति के सामने नहीं झुके. वह दृढ़ विश्वास और साहस से भरे व्यक्ति हैं. हम संजय राउत के साथ हैं.

गिरफ्तार होने से पहले संजय राउत (Sanjay Raut) ने कहा था कि ईडी शिवसेना और महाराष्ट्र को कमजोर करने की कोशिश कर रही है. इसलिए उनके खिलाफ गलत केस लगाया गया है. अब सवाल यह उठता है कि संजय की गिरफ्तारी से महाराष्ट्र की राजनीति पर क्या असर पड़ने वाला है, खासतौर पर शिवसेना और उद्धव ठाकरे की राजनीति पर इसका क्या असर पड़ेगा? क्योंकि संजय उद्धव ठाकरे की आवाज माने जाते थे. उनका बयान उद्धव ठाकरे का बयान माना जाता था.

सामना की संपादकीय से लेकर संसद तक संजय राउत (Sanjay Raut) उद्धव ठाकरे की आवाज के रूप में जाने जाते थे. महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ी हलचल देखने को मिल सकती है. कुछ लोग संजय की गिरफ्तारी के लिए बीजेपी को जिम्मेदार बता रहे हैं राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि, बागी शिंदे को स्थापित करने के लिये उदध्व ठाकरे को खत्म करना जरूरी था. ठाकरे को खत्म करने के लिये संजय राउत को जेल भेजना जरूरी था.

महाराष्ट्र की राजनीति को समझने वाले जानकारों का यह भी मानना है कि उद्धव ठाकरे की सरकार जाने के बाद नई सरकार आने के बाद और इस गिरफ्तारी के बाद मराठी मानुस में बदले की इस राजनीति का जबरदस्त असर है. जो नहीं भी सपोर्ट करते थे, वो भी अब ठाकरे परिवार के साथ हो रहे हैं. अब यह आने वाले वक्त में पता चलेगा कि महाराष्ट्र की राजनीति किस दिशा में जाती है और उद्धव ठाकरे क्या स्टैंड लेते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here