Chintan shivir

राजस्थान के शहर उदयपुर में कांग्रेस का 3 दिन का चिंतन शिविर (Chintan Shivir) अब खत्म हो गया है. पार्टी ने वन फैमिली वन टिकट, संगठन में युवाओं को आरक्षण, देश भर में पद यात्रा निकालने जैसे कई अहम फैसले लिए हैं. पार्टी के कायाकल्प का मंत्र दिया है राहुल गांधी ने. चिंतन शिविर में राहुल ने करीब 35 मिनट तक अपनी बात रखी.

राहुल गांधी ने कहा कि हम फिर जनता के बीच जाएंगे. उससे अपने पुराने रिश्ते मजबूत करेंगे और यह काम शॉर्टकट से नहीं होगा, यह पसीने से होगा यानी कड़ी मेहनत से. राहुल ने नेताओं में जान फूंकने की पूरी कोशिश की है. कहा है कि वह डिप्रेशन में ना जाएं, क्योंकि लड़ाई लंबी है. वहीं सोनिया गांधी ने अपने भाषण में कहा कि हम सत्ता में वापस लौटेंगे.

राहुल गांधी की अहम बातें

राहुल गांधी ने कहा कि शॉर्टकट से नहीं पसीना बहाना होगा, तभी वापस जनता से जुड़ पाएंगे. हम पैदा ही जनता से हुए हैं, यह हमारा डीएनए हैं. यह संगठन जनता से बना है. हम फिर जनता के बीच जाएंगे, अक्टूबर में पूरी कांग्रेस पार्टी जनता के बीच जाएगी. यात्रा करेगी. जो जनता के साथ रिश्ता है वह फिर से मजबूत करेंगे. यही एक रास्ता है और कोई शॉर्टकट नहीं होगा.

राहुल गांधी के निशाने पर क्षेत्रीय पार्टियां भी रही. राहुल गांधी ने कहा कि रीजनल पार्टियां यह लड़ाई नहीं लड़ सकती. यह लड़ाई केवल कांग्रेस ही लड़ सकती है. रीजनल पार्टियां बीजेपी को नहीं हरा सकती, क्योंकि उनके पास विचारधारा नहीं है, वह अलग अलग है. मुझे कोई डर नहीं है. मैंने जिंदगी में ₹1 किसी से नहीं लििया, कोई भ्रष्टाचार नहीं किया. मैं सच बोलने से नहीं डरता हूं.

राहुल गांधी ने कहा कि मैं फिर से कह रहा हूं कि भाजपा देश के इंस्टिट्यूशन को तोड़ रही है. यह जितना संस्थानों को खत्म करेंगे उतनी ही मुसीबतें पैदा होंगी. यह हमारी जिम्मेदारी है कि देश में यह नहीं हो. यह हमारे नेताओं, कार्यकर्ताओं की जिम्मेदारी है. यह काम केवल कांग्रेस कर सकती है. इस देश में ऐसा कोई धर्म, जाति, व्यक्ति नहीं है जो यह कह दे कि उसने कांग्रेस के लिए दरवाजे बंद कर दिए हो. कांग्रेस सब की पार्टी है.

हम सत्ता में वापस लौटेंगे

शिविर (Chintan Shivir) के समापन के अवसर पर सोनिया गांधी ने कहा कि हम जरूर लौटेंगे सत्ता में. उन्होंने कहा कि सभी लोग मिलकर काम करें, युवाओं को आगे बढ़ाने पर सीनियर नेता ध्यान दें. 2 अक्टूबर से भारत जोड़ो अभियान शुरू किया जाएगा. सोनिया गांधी ने पार्टी के सदस्यों को संबोधित करते हुए कहा कि “हम जीतेंगे”. उन्होंने इस वाक्य को कई बार दोहराया. इसके साथ ही उन्होंने पार्टी को फिर से सक्रिय करने का प्रयास के तौर पर कश्मीर से कन्याकुमारी तक भारत जोड़ो यात्रा शुरू करने की घोषणा की. उन्होंने कहा कि गांधी जयंती यानी 2 अक्टूबर से यह यात्रा शुरू होगी. इसके साथ ही सोनिया गांधी ने कांग्रेस यात्रा के साथ हर जिले में जनजागरण अभियान की घोषणा की और कहा कि यह जन जागरण अभियान 15 जून से शुरू होगा.

आपको बता दें कि रविवार को तीसरे दिन दोपहर तक चिंतन शिविर खत्म होने के साथ ही कांग्रेस नेता उदयपुर से रवाना होने लगे सोनिया गांधी और राहुल गांधी सहित वरिष्ठ नेता सोमवार यानी 16 मई को बेणेश्वर धाम जाएंगे. यहां बेणेश्वर में 100 करोड़ की लागत से बनने वाली पुलिया का शिलान्यास सोनिया और राहुल के हाथों होगा. साथ ही बेणेश्वर में एक सभा भी होगी, जिसे सोनिया और राहुल दोनों सम्बोधित करेंगे. गुजरात और राजस्थान के आदिवासियों को साधने के लिए यह अहम सभा होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here