student

रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध का अंजाम क्या होगा, कब तक चलेगा, किसी को कोई खबर नहीं है. यूक्रेन के शहर शहर तबाह हो रहे हैं यूक्रेन फिर भी रूस की सेना से डटकर मुकाबला कर रहा है. दुनिया के तमाम देश अभी भी इस संकोच में है कि यूक्रेन की मदद करें या नहीं.

रूस से मुकाबला करने के लिए यूक्रेन के नागरिकों ने भी हथियार उठा लिया है. यूक्रेन के राष्ट्रपति ने पूरे देश को इस वक्त एकजुट कर रखा है. यूक्रेन के राष्ट्रपति ने यह साफ कर दिया है कि वह किसी भी कीमत पर रूस के सामने आत्मसमर्पण नहीं करेंगे और किसी भी कीमत पर देश छोड़कर नहीं जाएंगे.

इन सबके बीच यूक्रेन में फंसे हुए बाहरी लोगों को तमाम देश या तो निकाल चुके हैं या फिर निकाल रहे हैं. भारत सरकार भी अब अपने छात्रों को वापस लाने के लिए गंभीर दिख रही है और कुछ छात्रों को वापस लाया जा चुका है और वापस लाए जा चुके छात्रों के ऊपर बीजेपी के नेता राजनीति भी शुरू कर चुके हैं और खुद प्रधानमंत्री मोदी आज बनारस की रैली में इसका जिक्र करते हुए अपनी पीठ थपथपा रहे थे.

लेकिन यूक्रेन से भारतीय छात्रा का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वह मोदी सरकार के नेताओं मंत्रियों और खुद प्रधानमंत्री मोदी के दावे की धज्जियां उड़ाते हुए दिखाई दे रही है. छात्रा का कहना है कि एडवाइजरी जारी की गई थी. लेकिन कब की गई?

अमेरिका के राष्ट्रपति का नाम लेकर छात्रा कहती है कि उनको कैसे पता चला मोदी जी आपको कैसे नहीं पता चला, उन्होंने अपने नागरिकों को निकाल लिया. मोदी जी आप कहां थे? 1 महीने से आप कहां थे यूपी इलेक्शन में बिजी थे.

आपको बता दें कि सोशल मीडिया पर यह वीडियो वायरल हो चुका है और मोदी सरकार के तमाम दावों की पोल खोल कर रख दी है इस छात्रा ने.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here