Uddhav Thackeray news

बीजेपी की पूर्व सहयोगी शिवसेना (Shiv Sena) प्रमुख और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने रविवार को बीजेपी पर जबरदस्त शहर किया. उन्होंने कहा कि बीजेपी के पास हिंदुत्व का पेटेंट नहीं है. उन्होंने दावा किया कि शिवसेना के दिवंगत सुप्रीमो बाला साहब ठाकरे ने बीजेपी को दिखाया था कि “भगवा और हिंदुत्व” के मेल से केंद्र की सत्ता हासिल करने में मदद मिल सकती है.

उद्धव ठाकरे ने कहा कि बीजेपी के उलट शिवसेना हमेशा से “भगवा और हिंदुत्व” को लेकर प्रतिबद्ध रही है. जबकि उसके (BJP) भारतीय जनसंघ और जनसंघ जैसे अलग अलग नाम हैं, जो अलग विचारधारा प्रसारित करती है.

उद्धव ठाकरे कोल्हापुर उत्तर सीट पर 12 अप्रैल को होने वाले उपचुनाव में महाविकास आघाडी प्रत्याशी जय श्री जाधव के प्रचार अभियान में डिजिटल माध्यम से जुड़े हुए थे. उन्होंने वर्ष 2019 में विधानसभा चुनाव के दौरान कोल्हापुर सीट पर शिवसेना प्रत्याशी को मिली हार के लिए रविवार को बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया. उस समय दोनों दलों का गठबंधन था.

उद्धव ठाकरे ने आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि, बीजेपी का कांग्रेस के साथ इस सीट पर वर्ष 2019 के चुनाव में गुप्त गठबंधन था. उन्होंने कहा बीजेपी के पास हिंदुत्व का पेटेंट नहीं है. मुझे आश्चर्य है कि अगर भगवान राम का जन्म नहीं हुआ होता तो बीजेपी राजनीति में कौनसा मुद्दा उठाती? क्योंकि बीजेपी के पास मुद्दों की कमी है, इसलिए वह धर्म और नफरत पर बात कर रही है.

आपको बता दें कि शिवसेना पूर्व में बीजेपी की सहयोगी रही है. लेकिन महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के बाद दोनों के रास्ते अलग हो गए थे. शिवसेना ने बीजेपी पर कई तरह के आरोप लगाए थे, जिसमें एक यह भी था कि चुनाव से पहले ढाई-ढाई साल के मुख्यमंत्री का वादा किया गया था, जिससे चुनाव के बाद बीजेपी मुकर गई थी.

उद्धव ठाकरे लगातार बीजेपी पर हमला कर रहे हैं और पिछले कुछ समय से देखा जा रहा है कि शिवसेना के अलग होने के बाद राज ठाकरे बीजेपी से नजदीकियां बढ़ाना चाहते हैं. जबकि 2019 लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी का जमकर विरोध कर रहे थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here