image7865

समाज में सामुदायिक कड़वाहट इस कदर फैलती जा रही है कि सरेआम लोग किसी को भी बेइज्जत करने या प्रताड़ित करने से पीछे नहीं रह रहे.

ऐसा ही वाकया हुआ मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) में, जहां के इस्लाम नगर इलाके में शनिवार (16 अक्टूबर) की दोपहर एक लड़की को उसी समुदाय के लोगों ने बुर्का (burqa) उतारने के लिए मजबूर किया क्योंकि लोगों को शक था कि जिस लड़के की स्कूटी पर वह पीछे बैठी थी, वह हिंदू था. इस घटना का एक वीडियो वायरल हो रहा है.

वीडियो में दिख रहा है कि समूह का एक व्यक्ति, जो वीडियो शूट कर रहा है, लड़की को यह कहते हुए सुना जाता है कि उसका कार्य स्पष्ट रूप से उसके समुदाय को अपमानित कर रहा है. वीडियो में ही कुछ महिलाएं जबरन उस लड़की को अपना चेहरा दिखाने के लिए मजबूर कर रही है. इस वाकये से दोनों पीड़ित अपमानित महसूस कर रहे हैं. युवती वीडियो में रोती हुई दिख रही है.

वीडियो में दिख रहा है कि पीड़ित युवती पहले बुर्का हटाने से इनकार करती है लेकिन उसके सहयात्री के समझाने पर वह सरेआम बुर्का उतारती है. इसके बाद लोग उसे हिजाब हटाकर चेहरा दिखाने को कह रहे हैं और उसकी वीडियो भी बना रहे हैं. शुरुआत में लड़की ने विरोध किया तो कुछ महिलाएं जबरन उसका चेहरा देखने की कोशिश करती हैं. हालांकि, वह अपने सहयात्री लड़के से सटकर अपना चेहरा छिपा लेती है.

इस घटना को लेकर पुलिस में कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है, लेकिन वीडियो में देखे गए दो लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 151 के तहत ऐहतियातन कार्रवाई की गई है और उन्हें भविष्य में इस तरह के कृत्य दोबारा न करने की चेतावनी के साथ छोड़ दिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here