Uma Bharti

महाराष्ट्र की राजनीति में उथल-पुथल जारी है और नेताओं की बयानबाजी भी रुकने का नाम नहीं ले रही है. कुल मिलाकर महाराष्ट्र में उद्धव सरकार गिरने का खतरा अभी भी मंडरा रहा है. शिवसेना के प्रभावशाली नेता एकनाथ शिंदे के बगावती तेवर अपना लेने के बाद महाराष्ट्र में शिवसेना एनसीपी और कांग्रेस की गठबंधन वाली सरकार मुश्किल में नजर आ रही है.

इन सबके बीच बीजेपी नेता उमा भारती (Uma Bharti) ने बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि यह बाला साहब वाली शिवसेना नहीं है. इस सरकार को तो गिर ही जाना चाहिए. महाराष्ट्र में चल रहे सियासी घटनाक्रम के बीच उमा भारती ने यह बयान दिया है. उन्होंने शिवसेना पर जमकर निशाना साधा है. अपने बयान में उन्होंने कहा है कि महाराष्ट्र में शिवसेना और कांग्रेस की गठबंधन सरकार दरअसल सड़ा हुआ फल है जो अब टूट गया है.

उमा भारती ने कहा कि महाराष्ट्र में जो सरकार बनी थी वह अव्यावहारिक थी. क्योंकि कांग्रेस और शिवसेना का मिलन तो हो ही नहीं सकता. यह तो सड़ा हुआ फल था. इनका एक ही मकसद था बीजेपी को सत्ता से दूर रखना. यह बाला साहब वाली शिवसेना बिल्कुल नहीं है. यह तो कांग्रेस की बी टीम वाली शिवसेना है. यह सरकार जरूर गिरनी चाहिए, क्योंकि यह हिंदू विरोधी और महिला विरोधी सरकार है.

उद्धव ठाकरे को निशाने पर लेते हुए मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने कहा कि इस शिवसेना को नाम बदलकर कांग्रेस सेना रख लेना चाहिए. आपको बता दें कि एकनाथ शिंदे शिवसेना के 35 से ज्यादा विधायकों को अपने साथ होने का दावा करके अचानक शिवसेना के लिए खतरा पैदा कर चुके हैं.

इधर इन सबके बीच उद्धव ठाकरे ने कहा है कि वह मुख्यमंत्री पद क्या शिव सेना का अध्यक्ष पद भी छोड़ने के लिए तैयार हैं, लेकिन शिवसेना के विधायक उनके पास आकर यह बात कहें. दरअसल उन्होंने महाराष्ट्र की जनता को और शिवसैनिकों को अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से संबोधित करते हुए यह बात कही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here