Subramanyam Swami

बीजेपी की प्रवक्ता नूपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद को लेकर की गई टिप्पणी, इसके अलावा बीजेपी के ही नेता नवीन जिंदल द्वारा की गई टिप्पणियों के बाद जिस तरह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर, खास तौर पर गल्फ कंट्री में विरोध देखने को मिला है और जिस तरीके से मोदी सरकार ने अपने ही नेताओं को असामाजिक तत्व विदेशों में करार दिया है, उसको लेकर अब बीजेपी के ही नेता सुब्रमण्यम स्वामी की टिप्पणी आई है.

भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने इसे लेकर अपनी पार्टी की सरकार पर हमला बोला है. स्वामी ने ट्विटर पर आरोप लगाया कि केंद्र सरकार ने छोटे से देश कतर के आगे साष्टांग दंडवत कर दिया. बीजेपी के नेताओं के निलंबन पर सुब्रमण्यम स्वामी भड़क गए हैं. उन्होंने पूरे 8 साल के कार्यकाल में विदेश नीति को लेकर सवाल खड़े कर दिए हैं.

सुब्रमण्यम स्वामी ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार के कार्यकाल में भारत माता को शर्म से सिर झुकाना पड़ा. चीन के सामने रेंगते नजर आए. रूस के सामने घुटने टेके और अमेरिकियों के सामने गिड़गिड़ाए. अब हमने छोटे से देश कतर के सामने साष्टांग दंडवत किया यह हमारी विदेश नीति का पतन है.

ऐसा कहा जा रहा है कि कतर के दबाव में बीजेपी ने अपने दो पार्टी नेताओं का निलंबन किया. नूपुर शर्मा तथा नवीन जिंदल पर आरोप है कि उन्होंने पिछले दिनों पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ आपत्तिजनक बातें कही थी. इसके बाद भारत के खिलाफ मुस्लिम देशों से कड़ी प्रतिक्रिया आई विरोध दर्ज कराया गया.

आपको बता दें कि अधिकतर मौकों पर सुब्रह्मण्यम स्वामी द्वारा मोदी सरकार की आलोचना देखने को मिलती है. चाहे चाइना का मामला हो, अमेरिका का मामला हो या फिर रूस का मामला हो और अब गल्फ कंट्री का मामला हो, सुब्रमण्यम स्वामी ने खुलकर मोदी सरकार पर हमले किए हैं. एक वक्त था जब सुब्रमण्यम स्वामी को मोदी का समर्थक माना जाता था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here