modi ji

बीजेपी के स्टार प्रचारक प्रधानमंत्री मोदी ने बलिया तथा महाराजगंज मे देश को मजबूत करने के नाम पर वोट मांगा है. उन्होंने अपनी रैली में कहा कि आत्मनिर्भर और शक्तिशाली होना ही भारत की ताकत है. पांचवें चरण के लिए हुई रैलियों में मोदी यूक्रेन का मुद्दा लाए थे और कहा था कि मजबूत देश के लिए मजबूत नेता चाहिए यानी उन्होंने सीधे अपने नाम पर वोट मांगे थे.

अब छठे चरण के लिए उत्तर प्रदेश में मतदान होना है और इस दौरान मोदी अपने भाषण में राष्ट्रवाद को लेकर आ गए हैं मोदी की आज की महाराजगंज की रैली में कोई नयापन नहीं था. प्रधानमंत्री मोदी ने आज महाराजगंज और बलिया में कहा कि देश को खेत से लेकर समुंद्र तक और स्पेस तक मजबूत बनाना है, लेकिन घोर परिवारवादी लोग भारत को सशक्त नहीं बना सकते हैं.

प्रधानमंत्री मोदी छठे चरण से पहले राष्ट्रवाद का मुद्दा लेकर आए हैं और राष्ट्रवाद के मुद्दे पर जनता को इमोशनल करना चाहते हैं. उन्होंने इससे पहले वाराणसी में कहा था कि काशी में उनकी मृत्यु की कामना की गई थी. एक तरह से उन्होंने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव पर निशाना साधा था, जिन्होंने हाल ही में बिना किसी का नाम लिए हुए कहा था कि अंतिम समय में लोगों को काशी में रहना चाहिए.

छठे चरण का चुनाव उत्तर प्रदेश में 3 मार्च को होना है. 58 सीटों के लिए पूर्वांचल के 10 जिलों में वोटिंग होगी. इनमें महाराजगंज और बलिया के अलावा बस्ती, सिद्धार्थनगर, कुशीनगर, संत कबीर नगर, अंबेडकर नगर, बलरामपुर, गोरखपुर और देवरिया के जिले हैं.

अब यहां सवाल उठता है कि क्या बार-बार राष्ट्रवाद के नाम पर जनता को इमोशनल किया जा सकता है क्या राष्ट्रवाद के नाम पर जनता बार-बार एक पार्टी का समर्थन करके रोजगार महिला सुरक्षा महंगाई जैसे मुद्दों को तिलांजलि दे देगी? ऐसे सवालों का जवाब 10 मार्च को मिलेगा. लेकिन प्रधानमंत्री मोदी कोशिश पूरी कर रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here