Mulayam Singh Yadav

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने साफ कर दिया है कि वह इस चुनाव में किसी बड़े राजनीतिक दल के साथ गठबंधन नहीं करेंगे. बता दें कि, पिछले विधानसभा चुनाव में उन्होंने कांग्रेस के साथ गठबंधन किया था राहुल और अखिलेश में साथ में प्रचार किया था. लेकिन समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश की सत्ता से बाहर हो गई थी.

इस बार अखिलेश यादव ने अपनी रणनीति में बदलाव किया है और वह छोटी पार्टियों के साथ गठबंधन करके चुनावी समर में जाना चाहते हैं. किसी भी बड़े दल से वह चुनावी गठबंधन के लिए तैयार नहीं है. अखिलेश यादव 2022 का विधानसभा चुनाव हर हाल में जीतना चाहते हैं.

बता दें कि इस बार अखिलेश यादव ने छोटी पार्टियों के साथ गठबंधन की रणनीति बनाई है, जिसमें प्रमुख रूप से जयंत चौधरी (Jayant Choudhary) के साथ समाजवादी पार्टी का गठबंधन काम करने की योजना बना रहा है. पश्चिमी यूपी में किसान आंदोलन का खासा असर है और जयंत चौधरी के सहारे पश्चिमी यूपी के वोट बैंक पर अखिलेश यादव की नजरें टिकी हुई है.

आपको बता दें कि मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) से एक बार वरिष्ठ पत्रकार प्रभु चावला ने कांग्रेस को लेकर सवाल किया था. प्रभु चावला ने मुलायम सिंह यादव से पूछा था कि आप कभी कांग्रेस से नाराज होते हैं तो कभी कांग्रेस के नजदीक नजर आते हैं. अचानक कांग्रेस में ऐसा क्या बदलाव आता है कि आप अचानक सोनिया जी के बंगले पर चाय पीने चले जाते हैं?

प्रभु चावला के सवाल पर मुलायम सिंह यादव ने जवाब दिया था कि, मैंने अपने बेटे की शादी में सोनिया जी को बुलाया था, मैंने ईद के कार्यक्रम में सोनिया जी को बुलाया और दोनों ही जगह वह आई. अब वह दोनों जगह आई तो जाना हमारा भी तो फर्ज था. मुलायम सिंह यादव ने इस इंटरव्यू में कई बातें बताई.

मुलायम सिंह यादव ने कहा था कि एक बार सोनिया जी ने मुझे फोन करके कहा कि हम आपके घर आना चाहते हैं. मुलायम सिंह यादव ने बताया कि जब सोनिया जी ने घर आने की इच्छा जाहिर की तो मैंने उन्हें रोका और कहा कि हम आपके घर आएंगे. इस बार भी हमारी बात हुई तो उन्होंने कहा कि आप आ सकते हैं? मैंने कहा कि हम अभी आ रहे हैं.

प्रभु चावला का राहुल गांधी को लेकर सवाल

उस इंटरव्यू में मुलायम सिंह यादव से प्रभु चावला ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को लेकर भी सवाल पूछा था. राहुल गांधी को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में मुलायम सिंह यादव ने कहा था कि जहां तक राहुल को प्रधानमंत्री बनाने का सवाल है तो हम कहेंगे कि यह कांग्रेस पार्टी का आंतरिक मामला है. यह कांग्रेस पार्टी ही तय करेगी कि उसका प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार कौन होगा.

मुलायम सिंह यादव ने आगे कहा था कि, जहां तक हमारा समर्थन करने का सवाल है तो हम इसका फैसला चुनाव के बाद ही कर पाएंगे. हम कोई नहीं होते हैं जो यह तय कर सकता है कि कौन प्रधानमंत्री बनेगा और कौन नहीं. आपको बता दें कि आज मुलायम सिंह यादव का जन्मदिन है. तमाम बड़े नेताओं ने उन्हें बधाई दी है और उत्तम स्वास्थ्य की प्रार्थना की है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here