Mamata Banerjee Mohan Bhagwat

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक प्रमुख मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) के बंगाल दौरे को लेकर पुलिस से सतर्क रहने के लिए कहा है. मुख्यमंत्री ने पुलिस के अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वह सुनिश्चित करें कि राज्य में कोई दंगा ना हो. उन्होंने कहा आरएसएस चीफ 17 से 20 मई तक केशियारी गांव में रहेंगे ऐसे में प्रशासन नजर रखें कि उनका एजेंडा क्या है.

ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने कहा है कि प्रशासन आरएसएस चीफ को कुछ मिठाई और फल भेजें, जिससे उन्हें पता चले कि हम अपने मेहमानों को कैसी खातिरदारी करते हैं. लेकिन याद रहे कि अति ना करें. वह इसका फायदा भी उठा सकते हैं.

बीजेपी ने जताई आपत्ति

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के पुलिस को दिए गए इस निर्देश पर बीजेपी नेता दिलीप घोष ने आपत्ति जताई है. उन्होंने कहा है कि मोहन भागवत सम्मानित व्यक्ति हैं. वह राज्य का दौरा करते रहते हैं और एक मुख्यमंत्री को उनके बारे में इस तरह का बयान देना शोभा नहीं देता. दिलीप घोष ने कहा कि पश्चिम बंगाल में तब भी दंगे हो रहे हैं, जब भागवत यहां नहीं रहते हैं. पुलिस और उनकी पार्टी के कार्यकर्ता लोगों की ह’त्या और बला’त्कार कर रहे हैं. लेकिन सरकार इससे निपटने के लिए कोई सख्त कदम नहीं उठा रही है.

आपको बता दें कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक प्रमुख मोहन भागवत ने इस साल फरवरी में भी उत्तर बंगाल के नक्सलबाड़ी में 4 दिनों की बैठक की थी. संघ की बंगाल में करीब 1800 शाखाएं हैं, इनमें से लगभग 450 राज्य के उत्तरी जिलों में है. ममता बनर्जी अक्सर बीजेपी को और संघ को लेकर बयान बाजी करती रहती हैं. हालांकि इस बार उन्होंने मोहन भागवत को लेकर बयान दिया है जिससे बीजेपी बौखला गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here