Putin

रूस की तरफ से सैनिक कार्यवाही के बाद यूक्रेन के कई शहरों से लोग निकलकर सुरक्षित जगहों पर जा रहे हैं. रूस के टैंक यूक्रेन पर कहर बनकर टूटे है. यूक्रेन की सड़कों पर भयंकर जाम लग गया है. यूक्रेन की राजधानी में लगातार इमरजेंसी सायरन बज रहे हैं और इस वजह से अफरा-तफरी का माहौल है.

रूस ने यूक्रेन के साथ जंग की शुरुआत कर दी है. राष्ट्रपति पुतिन के सैन्य कार्रवाई के ऐलान के 5 मिनट बाद यूक्रेन में धमाके सुनाई दिए. यूक्रेन के कई शहरों में तबाही मची हुई है, लोग दहशत में शहर और घर छोड़कर जा रहे हैं. सड़कों पर कारों की लंबी कतारें है.

पुतिन द्वारा सैन्य कार्रवाई के आदेश के बाद रूस और भी ज्यादा हमलावर होता जा रहा है. ताजा जानकारी के अनुसार रूस ने यूक्रेन के दो गांवों पर कब्जा कर लिया है. वहीं मिसाइल हमले में अब तक सात लोगों की जान जा चुकी है. यूक्रेन की सेना ने दावा किया है कि उसने लुहान्स्क क्षेत्र में पांच रूसी विमानों और एक रूसी हेलीकॉप्टर को मार गिराया गया है. समाचार एजेंस रॉयटर्स ने इसकी जानकारी दी है.

आपको बता दें कि रूस ने यूक्रेन पर हमला बोल दिया है और NATO अभी भी निंदा कर रहा है. पुतिन ने मिलिट्री ऑपरेशन की घोषणा करते हुए धमकी दी है कि कोई इस मामले में दखल ना दें, वरना अंजाम बहुत बुरा होगा. यह सीधी धमकी अमेरिका ब्रिटेन जैसे देशों को दी गई है.

रूस की सेना यूक्रेन के कई दिशाओं में घुसी हुई है. आपको बता दें कि इस युद्ध का अंजाम दुनियाभर पर पड़ेगा. इसकी वजह से पश्चिम देशों में गहरा असर होगा. यूक्रेन की हालत अफगानिस्तान जैसी हो सकती है. अमेरिका और नाटो उसे अपने ढाल के तौर पर उसके खिलाफ इस्तेमाल कर सकते हैं.

रूस ने कहा है कि पूर्वी यूक्रेन में विद्रोही नेताओं ने यूक्रेन की आक्रामकता से बचाव के लिए रूस से सैन्य सहायता मांगी है. क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने कहा कि विद्रोही नेताओं ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को पत्र लिखकर बताया है कि यूक्रेन की सेना द्वारा की गई गोलाबारी में कई नागरिकों की मौत हुई है और कई लोग पलायन करने को मजबूर हुए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here