Amish Devgan Smriti Irani

संसद में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) के बीच हुई नोकझोंक इस समय चर्चा का विषय बना हुआ है. सोशल मीडिया से लेकर संसद तक राजनीति गरमाई हुई है. जहां एक तरफ बीजेपी कांग्रेस पर हमलावर है. वहीं कांग्रेस स्मृति ईरानी पर आरोप लगा रही है कि उन्होंने गोवा वाले रेस्टोरेंट और बार के मुद्दे को दबाने के लिए जानबूझकर सोनिया गांधी से अभद्रता की, ताकि मुद्दे को डायवर्ट किया जा सके.

कांग्रेस की सांसद गीता कोरा ने कहा कि सदन की कार्यवाही खत्म होने के बाद सांसद बाहर निकल रहे थे तभी पीछे से सोनिया गांधी जी के नाम पर नारेबाजी करने लगे. तब सोनिया गांधी जी बात करना चाह रही थी रामादेवी से. वह गई, तभी सारे सांसद चिल्लाने लगे और गलत तरीके से सोनिया जी से बात कर रहे थे. इस दौरान हम भी वहां पहुंचे और उनको वहां से ले आए. क्योंकि लग रहा था कि वह उनको कोई नुकसान ना पहुंचा दें. इस दौरान स्मृति ईरानी बार-बार बोल रही थी कि, सोनिया गांधी बहुत बोल रही हैं.

इस पूरे मामले पर कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury) माफी मांग चुके हैं, लेकिन बीजेपी फिर भी इस मुद्दे को भुनाने में लगी हुई है. अधीर रंजन चौधरी कह चुके हैं कि उनके मुंह से गलती से निकल गया था. आपको बता दें कि अधीर रंजन चौधरी ने “राष्ट्रपति” की जगह “राष्ट्रपत्नी” कह दिया था, जिसके बाद उसे बीजेपी की महिला सांसदों ने बवाल मचा दिया. सोनिया गांधी से माफी की मांग हो रही थी और सोनिया गांधी ने कहा कि अधीर रंजन चौधरी माफी मांग चुके हैं पहले ही.

अमीश देवगन (Amish Devgan)

इन सबसे अलग स्मृति ईरानी के लिए पत्रकार और एंकर अमीश देवगन (Amish Devgan) ने एक ट्वीट किया था. उन्होंने लिखा था कि, आज सुबह स्मृति ईरानी के पिता एक अस्पताल के ICU में थे, इसके बावजूद वो संसद आई और अपने कार्य का निर्वाहन किया. क्योंकि उन्हें जनता ने सदन में भेजा है और उसी जनता के कार्य के लिए वो सदन में थीं.

इस ट्वीट से साफ लग रहा था कि अमीश देवगन (Amish Devgan) इस पूरे मुद्दे पर स्मृति ईरानी का पक्ष ले रहे थे. बस क्या था सोशल मीडिया यूजर्स ने अमीश देवगन को ट्रोल करना शुरू कर दिया. कुछ लोगों ने कहा कि सोनिया गांधी के पति राजीव गांधी ने देश के लिए अपनी शहादत दे दी. सोनिया गांधी की सास इंदिरा गांधी ने देश की एकता के लिए अपनी शहादत दी. कुछ यूजर्स ने कहा कि, अमीश देवगन से कहा कि तुम पत्रकार हो या भाजपा के प्रवक्ता?

इसके अलावा कांग्रेस की तेजतर्रार नेता और प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत (Supriya Shrinate) ने अमीश देवगन (Amish Devgan)को जवाब देते हुए लिखा कि, अमीश, ईश्वर से प्रार्थना है कि स्मृति ईरानी के पिता जी शीघ्र स्वस्थ हों. साथ ही एक प्रार्थना यह भी है कि ईश्वर आपको भी थोड़ा कलेजा दें जिससे आप sold-my-Soul-to-silly-souls के आगे भी कुछ करें जिसे जनता देखे! कब तक आपका शो कोई और तय करेगा, थकते नहीं हैं आप ?कभी ज़मीर की भी तो सुनिए!

राजीव नामक ट्विटर यूजर ने अमीश देवगन (Amish Devgan) का जवाब देते हुए लिखा कि, भाजपा प्रवक्ता अमीश बाबू, सोनिया जी भी लम्बे समय से बीमार हैं, बुज़ुर्ग हैं, श्रीमती ईरानी से 30 साल बड़ी हैं. फिर भी सोनिया जी सदन में आईं. क्योंकि उन्हें रायबरेली की जनता ने संसद में चुनकर भेजा है. वे अपनी रसोई के लिए खरीदारी करने संसद नहीं आई थीं.

इसी तरह राजकुमार स्वामी नामक युवक ने अमीश देवगन (Amish Devgan) का जवाब देते हुए लिखा कि, और इतना महान कार्य किया कि एक 75 साल की बिमार अपनी मां की उम्र की महिला को घेरकर उसको अपमानित किया. अगर यह काम जनता के नाम पर किया है तो माफ़ करना भाई हमें ऐसे काम पसंद नहीं है. जनता का कार्य तब होता जब वह महंगाई और बेरोजगारी पर बोले वह तो बार वाले मामले से ध्यान हटाने आई थी!

ज्यादातर यूजर्स को यही लग रहा था कि अमीश देवगन (Amish Devgan) स्मृति ईरानी का समर्थन कर रहे हैं और यह देख कर अजय कनोजिया नामक टि्वटर यूजर ने लिखा, स्मृति ईरानी जी के लिए इतनी सफाई देने क्या जरूरत है? अगर इस्मृति मैडम जी के लिए बोल रहे हो तो सोनिया गांधी मैडम जी भी 2 बार गंगाराम अस्पताल में भर्ती थी. अभी हाल ही में कोरोना महामारी से पॉजिटिव हुई थी. दो शब्द सोनिया गांधी जी के लिए भी बोल देते.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here