Devar Bhabhi Wedding

झांसी उल्दन थाना परिसर में देवर भाभी को राजी करके पुलिस ने हिंदू रीति रिवाज के साथ शादी (Devar Bhabhi Wedding) करवाई है. दरअसल पचवारा गांव की निवासी सुधा के पति शंकर अहिरवार का 3 साल पहले निधन हो गया था.

सुधा की तीन बेटियां हैं. छोटी सी उम्र में ही बच्चियों के सिर से पिता का साया उठ गया. बच्चियों के पिता के निधन के बाद उनकी देखभाल शंकर का छोटा भाई रवि करने लगा.

भाई की तीन बेटियों की परवरिश करते-करते वह अपने भाई की विधवा पत्नी से दिल लगा बैठा और दोनों के बीच प्रेम संबंध बन गए. फिर देवर ने भाभी से विवाह करने का वादा किया, लेकिन कुछ दिनों पहले रवि ने शादी करने से इंकार कर दिया. इस पर सुधा ने उल्दन पुलिस को लिखित शिकायत की.

थाना अध्यक्ष अजमेर सिंह ने दोनों को बुलाकर समझाया इसके बाद रवि शादी करने के लिए तैयार हो गया. पुलिस ने परिजनों की सहमति ली. फिर थाना परिसर के मंदिर में सुधा और रवि की जयमाला कराकर शादी करवाई गई.

इस अनोखे विवाह की उल्दन पुलिस साक्षी बनी. गांव में लोगों में यह काफी चर्चा का विषय बना हुआ है. लोग देवर और भाभी की शादी को लेकर सकारात्मक सोच रख रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here