Ashok Gehlot Rahul

राजस्थान में क्या सचिन पायलट और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बीच की अदावत खत्म होने वाली है या यूं कहें कि क्या राजस्थान में कुर्सी को लेकर जो झगड़ा है वह पूरी तरीके से समाप्त होने वाला है?

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के बयान से इस तरह के ही संकेत मिल रहे हैं. अलवर में अशोक गहलोत और सचिन पायलट के साथ हुई बैठक के बाद राहुल गांधी ने कहा है कि जल्द ही अच्छी खबर मिलेगी.

राहुल गांधी के साथ सचिन पायलट और अशोक गहलोत की जो बैठक हुई है उसमें संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल भी मौजूद थे और यह बैठक लगभग 30 मिनट तक चली. राहुल गांधी ने इससे पहले सचिन पायलट और गहलोत दोनों को कांग्रेस का एसेट कहा था.

सचिन पायलट और अशोक गहलोत के बीच राजस्थान के अंदर सत्ता का संघर्ष किसी से छुपा हुआ भी नहीं है. कई मौकों पर इसको लेकर दोनों ने बयान बाजी की है और इससे कई मौकों पर कांग्रेस की किरकिरी भी हुई है.

लेकिन राहुल गांधी ने कहा है कि जल्द ही अच्छी खबर मिलने वाली है. तो क्या इसका मतलब यही है कि गहलोत और पायलट में समझौता हो गया है?

आपको बता दें कि अगले साल राजस्थान में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और बीजेपी भी उसकी तैयारियों में लग चुकी है. पिछले दिनों सचिन पायलट ने बयान दिया था कि बीजेपी द्वारा निकाली गई रैली पूरी तरीके से फ्लॉप रही है राजस्थान के अंदर और अगले विधानसभा चुनाव में भी कांग्रेस की सरकार रिपीट होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here