Gujrat Dahod

गुजरात में 27 वर्षों से सत्ता पर काबिज बीजेपी ने गुरुवार को गुजरात के दाहोद जिले की लिमखेड़ा विधानसभा सीट पर भी जीत दर्ज कर ली है. यहां 2002 के दंगों की पीड़िता बिलकिस बानो कभी रहा करती थीं. बिलकिस बानो सामूहिक दुष्कर्म मामले में बीजेपी के नेतृत्व वाली राज्य सरकार द्वारा 11 दोषियों की सजा माफी को रद्द करने का वादा करने वाली विपक्षी कांग्रेस के उम्मीदवार तीसरे स्थान पर रहे.

बीजेपी विधायक शैलेश भाभोर ने अपने करीबी प्रतिद्वंदी आम आदमी पार्टी के नरेश बारिया को लगभग 4000 मतों के अंतर से हराया है. कांग्रेस उम्मीदवार 8000 से थोड़े अधिक मतों के साथ तीसरे स्थान पर रहे. वहीं पाकिस्तान की सीमा से लगे कच्छ जिले में भाजपा ने सूपड़ा साफ कर दिया और सभी 6 विधानसभा सीटों पर जीत दर्ज की.

गुजरात जीत के बाद प्रधानमंत्री ने दिए बड़े संकेत

प्रधानमंत्री मोदी ने गुजरात चुनाव में बीजेपी की जीत के तुरंत बाद ‘रेवड़ी कल्चर’ पर हमला बोलते हुए सख्त आर्थिक फैसलों के संकेत दिए हैं. उन्होंने ‘आमदनी अठन्नी, खर्चा रुपैया’ कहावत से देश की सरकार की आर्थिक हालत ठीक नहीं होने का इशारा देते हुए कहा कि हमें अपने आसपास के देशों की हालत को देखते हुए याद रखना होगा कि चुनावी हद खंडों से किसी का भला नहीं हो सकता.

प्रधानमंत्री मोदी ने मुफ्त वादों पर हमला करते हुए कहा कि देश का मतदाता आज इतना जागरूक है कि वह अपना हित और अहित जानता है. उन्होंने कहा कि देश का मतदाता जानता है कि ऐसी शॉर्टकट की राजनीति का कितना बड़ा नुकसान देश को उठाना होगा. एक तरह से प्रधानमंत्री मोदी ने गुजरात चुनाव जीतते ही इशारों इशारों में सरकार की आर्थिक हालत ठीक नहीं होने के संकेत दे दिए हैं और यह इस बात का इशारा है कि सरकार आने वाले दिनों में कई कड़े फैसले ले सकती हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here